E - News Uttarakhand
Ultimate magazine theme for WordPress.

मजदूर संघठन CITU ने उपजिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को किया ज्ञापन प्रेषित

0 301

बढ़ती मंहगाई के विरोध में भारतीय किसान

डोईवाला : (जावेद हुसैन)- देश मे पैट्रोल डीजल एवं बढ़ती मंहगाई व किसानों व मजदूरों की समस्याओं को लेकर अखिल भारतीय

किसान सभा तथा मजदूर संघठन CITU ने अखिल भारतीय स्तर पर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

इसी कड़ी में आज डोईवाला में भी किसानों एवं श्रमिक मजदूर संगठन CITU ने शोसल डिस्टेनसिंग का पालन करते हुए

डोईवाला तहसील में सरकार की किसान ,मजदुर विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर ज्ञापन प्रेषित किया।

प्रदर्शन कारियों को सम्बोधित करते हुए किसान सभा जिला अध्यक्ष दलजीत सिंह ने कहा कि

वैश्विक महामारी कोविड -19 के चलते देश का किसान आर्थिक तंगी से

जूझ रहा है, और केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार आंख मूंदे किसानों

व मजदूरों के हितों के खिलाफ फैसले के रही है। कृषि उपज वाणिज्य कर

(संवर्द्धन एवं सुविधा) व आवश्यक वस्तु अधिनियम जैसे

अध्यादेश लाकर किसानों को कमजोर करने का काम किया जा रहा है

श्रीमिक संघठन सीटू के जिलाध्यक्ष कृष्ण गुनियाल ने कहा कि सरकार श्रमिक कानूनों ने बदलाव एवं कटौती कर

मजदूरों की कमर तोड़ने का काम कर रही है, जिसे मजदूर संघठन

बर्दास्त नही करेगा। प्रदर्शन में शामिल लोगों को संगठन के नेता पुरुषोत्तम बडोनी

किसान सभा के मण्डल सचिव याक़ूब अली एवं ज़ाहिद अंजुम ने भी अपने सम्बोधन ने सरकार की किसान व मजदूर

विरोधी नीतियों का खुलकर विरोध कर उपजिलाधिकारी डोईवाला के माध्यम से महामहीम राष्ट्रपति को निम्न मांगो का ज्ञापन प्रेषित किया।

प्रमुख मांगे

1: सरकार द्वारा किसानों एवं मजदूरों के खिलाफ लाये गये मजदूर किसान विरोधी अध्यादेश को वापस लिया जाये।

2:- बेतहाशा बढ़े डीजल पेट्रोल के दाम वापस लिये जाए।

3:- गन्ना किसानों का बकाया गन्ना मूल्य भुगतान तुरंत किया जाये तथा कृषि ऋण माफ किये जायें।

4:- श्रमिक कानूनों में कई गयी कटौती वापस ली जाए तथा उद्योगों का निजीकरण

बन्द कर रोजगार की गारंटी दी जाए।

5:- प्राइवेट फैक्ट्रियों द्वारा की जा रही मजदूरों की छंटनी बन्द की जाए व

लॉक डॉन के समय काटी गई सैलरी का पूर्ण भुगतान किया जाये।

6:- कॅरोना संकट के चलते गरीब लोगों को प्रति व्यक्ति 10 किलोग्राम राशन मुफ्त उपलब्ध कराया जाए व

आयकर से बाहर व्यक्तियों को 7500₹ प्रति माह बेरोजगारी भत्ता दिया जाए

7 :- बरसात के कारण प्राकृतिक आपदा से नदी किनारे बसी बस्तियों की

सुरक्षा हेतु सुरक्षा दीवार का निर्माण किया जाए ।

ज्ञापन देने वालो में मुख्य रूप से पूरण सिंह, जगजीत सिंह, अवतार सिंह, समशाद अली,अनूप पाल, क्रेशन सिंह,

त्रिलोचन सिंह, बलबीर सिंह, मुहम्मद अकरम, एम. एन. सोलंकी देव सिंह, विपिन कुमार ,उमानंद, गुरचरण सिंह,

किसान सभा के मंडल सचिव याक़ूब अली आदि किसान मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.